Home » उमरिया-न्यूज़ » उमरिया- निर्वाचन काल में किसी भी प्रकार की गलती बर्दास्त नहीं की जाएगी- कलेक्टर

उमरिया- निर्वाचन काल में किसी भी प्रकार की गलती बर्दास्त नहीं की जाएगी- कलेक्टर

जोनल अधिकारी मतदान के एक दिन पूर्व जोन में रात्रि विश्राम करेंगे

उमरिया- निर्वाचन काल में किसी भी प्रकार की गलती बर्दास्त नहीं की जाएगी- कलेक्टर
उमरिया- निर्वाचन काल में किसी भी प्रकार की गलती बर्दास्त नहीं की जाएगी- कलेक्टर
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अभिषेक सिंह ने बांधवगढ़ विधानसभ उप निर्वाचन सम्पन्न कराने के लिए अधिकारियों को सौपे गये कार्यो की समीक्षा करते हुए कहा है कि सभी अधिकारी कर्मचारी सतर्क एवं सजग होकर चुनाव कार्य को महा उत्सव की भांति अंजाम दें। बैठक में उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री मंगल सिंह मरावी, एसडीएम बांधवगढ़ ऋषि पवार, सीइओ जिला पंचायत एच एस मीणा, एसडीएम पाली श्रीमती साधना सिंह, समस्त जोनल अधिकारी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।
कलेक्टर ने कहा है कि सभी अधिकारी व्हीव्हीपीएटी मशीन का गहन अध्ययन करें ताकि आवश्यकता पड़ने पर मतदान केंद्रों में मतदान कर्मियों को बता सके। उन्होने कहा कि समस्त जोनल अधिकारी एक बार पुनः मतदान केन्द्रो का जायजा लेते हुए मतदान केंद्र की समस्त आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि मतदान के एक दिन 8 अप्रैल को मतदान दल को सामग्री वितरण कर मतदान केंन्द्रों हेतु रवाना किया जायेगा। इस दिन समस्त जोनल अधिकारी अपने जोन के अंतर्गत रात्रि विश्राम करें जिससे प्रातः 5 बजे से मतदान केंद्रों का भ्रमण कर माकपोल एवं मतदान प्रारंभ होने की ओके रिपोर्ट समय पर दे सके।
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि बांधवगढ़ विधानसभा क्षेत्र को 8 कलस्टर में विभाजित कर कार्यपालिक मजिस्ट्रेटों की भी नियुक्ति की गई है, जिनके पास एक मास्टर ट्रेनर्स एवं व्हीव्हीपीएटी मशीन उपलब्ध रहेगी। यदि किसी मतदान केंद्र में मशीन के कारण मतदान में रूकावट आती है तो कार्यपालिक मजिस्ट्रेट तुरंत संबंधित मतदान केन्द्रो में पहुचकर व्यवस्था सुनिश्चित कराएगे। मतदान केंद्र की लोकल व्यवस्था रोजगार सहायक करेंगे। इस हेतु सीईओ जिला पंचायत को निर्देशित किया गया है किवे रोजगार सहायकों को व्यवस्थ के संबंध में आवश्यक निर्देश जारी करे।
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा है कि निर्वाचन कार्य को पूरी जिम्मेंदारी एवं गंभीरता के साथ लें, इसमें छोटी सी गलती बड़ी बन जाती है और वह क्षम्य नही होती। इसलिए आवश्यक है कि वे समर्पित भाव से उत्साह एवं उल्लास के साथ चुनाव कार्य में जुटे। बैठक में बताया गया कि 4 अप्रैल 2017 को दोपहर 2 से 4 बजे तक कम्युनिकेशन टीम की टेस्टिंग की जाएगी जिसमें जोनल अधिकारियों की उपस्थिति अनिवार्य होगी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

6 + seven =